अगर आप एक शौकीन कॉफी पीने वाले हैं, तो आपको शायद आश्चर्य होगा कि कितने प्रकार की कॉफ़ी होती हैं2020)! यहां आपको विभिन्न प्रकार के कॉफी बीन्स के बारे में  एक पूर्ण मार्गदर्शिका मिलेगी

अगर आप एक शौकीन कॉफी पीने वाले हैं, तो आपको शायद आश्चर्य होगा कि कितने प्रकार की कॉफ़ी होती हैं2020)! यहां आपको विभिन्न प्रकार के कॉफी बीन्स के बारे में एक पूर्ण मार्गदर्शिका मिलेगी

यहां तक कि मुझे भी इस बात का बिल्कुल एहसास नहीं था कि कितने अलग-अलग प्रकार के कॉफी पेय हैं। तथ्य यह है कि कई अलग-अलग प्रकार के कॉफी पेय हैं, जिसका आपको आनंद लेने के लिए इंतजार करना पड़ता है। आइए प्रत्येक प्रकार की कॉफी पर एक नज़र डालें, ताकि जब आप कुछ नया आज़माने के लिए तैयार हों तो आपके पास एक सुविधाजनक सूची हो।

कॉफ़ी बिंस के बारे में जरूरी जानकारी ।

कुछ लोग कॉफी के बिना अपने दिन की शुरुआत कर ही नहीं सकते :- वे लोग एक दिन भी उस के बिना नहीं रह सकते। क्या आप भी उन लोगों में से एक हैं? क्या आपको पता है कि आप घर पर ही ताजा, बींस से बनाई कॉफी पी सकते हैं?

क्या आप ज्यादा जानना पसंद करेंगे? तो फिर आपको यह लेख पढ़ना ही चाहिए :- हमने यहां पर कई प्रकार के कॉफी बींस के बारे में जानकारी नहीं है और यदि आपके अलावा आपके दोस्त को भी कॉफी पसंद हैं तो फिर आप उन्हें भी यह कॉफी बींस दे सकते हैं।

कॉफी बींस के मुख्य चार प्रकार ।

हम आपको बताना चाहेंगे कि आजकल बाजार में मुख्य चार प्रकार के कॉफी बींस मिलते हैं :- हमने यहां पर आपके लिए सभी कॉफी बींस के बारे में जानकारी दी है।

अरेबिका ।

अरेबिका कोफी बींस सबसे अधिक लोकप्रिय और अधिक इस्तेमाल किए जाने वाले कोफी बींस में से एक है :- वास्तव में 60 % लोगों द्वारा पसंद किए जाने वाले कॉफी बींस है। इसलिए यह संभव है कि जो कॉफी फिलहाल आप इस्तेमाल कर रहे हैं वह इन्हीं कॉफी बींस में से बनाई गई है। आमतौर पर सभी दुकानों में भी जो कॉफी आपको मिलती है वह इन्हीं कॉफी बींस में से बनाई जाती है क्योंकि इनका स्वाद दूसरे कॉफी बींस में से बनाई कॉफी से ज्यादा अच्छा होता है।

इसका स्वाद थोड़ा सा स्ट्रांग होता है लेकिन फिर भी काफी मीठी लगती है :- इस कॉफी को बनाते समय इतनी अच्छी सुगंध आती है कि आप इसे पिए बिना रह ही नहीं सकते। यदि आप उन लोगों में से हैं जिन्हें को भी काफी पसंद है तो फिर जब आप कॉफी की दुकान के पास से गुजरते होंगे तभी भी आप कॉफी की सुगंध को काफी अच्छी तरह महसूस कर सकोगे।

आमतौर पर ये कॉफी बींस लेटिन अमेरिका में उगाए जाते हैं :- वे आसानी से पर्यावरणीय परिवर्तनों से प्रभावित होते हैं और खेती करते समय अधिक देखभाल की आवश्यकता होती है। इसलिए वे रोबस्टा बीन्स की तुलना में काफी अधिक कीमत वाले हैं। जब इस कॉफी को हम गरम गरम ही पीते हैं तब इसका स्वाद ओर अच्छा लगता है।

रोबुस्टा कॉफी ।

जब हम कॉफी के उत्पादन के बारे में बात कर रहे हैं तो रोबुस्टा विश्व में दूसरे नंबर में आती है :- जैसे कि नाम से ही हमें पता चलता है कि यह काफी मजबूत होते हैं और इनके पौधों पर पर्यावरण का उतना प्रभाव नहीं होता। यह पौधे में कैफीन की मात्रा के कारण है। इसलिए, रोबस्टा बीन्स में अरेबिका की तुलना में कैफीन की मात्रा लगभग दोगुनी होती है! अनियमित वर्षा के साथ भी रोबुस्टा बींस को गरम पर्यावरण में बड़ी ही आसानी से उगाया जा सकता है।

इनकी खेती करते समय अपनी देखभाल की आवश्यकता नहीं होती :- इसलिए इसका दाम भी अरेबिक बीन्स तुलना में काफी कम होता है। इसका स्वाद हल्का सा कड़वा लग सकता है।रोबस्टा बीन्स अफ्रीका और इंडोनेशिया में उगाए जाते हैं। इसका स्वाद काफी लंबे समय तक वैसे के वैसे ही बरकरार रहता है। इसलिए, जब क्रीम और चीनी के साथ ठंडा भी परोसा जाता है तो बहुत अच्छा लगता है और यह एक शानदार कॉफी बन जाती है।

लाइबेरिका ।

लाइबेरिका बीन्स आकार में बड़ी होती हैं और अक्सर ये अनियमित आकार में मिलते हैं :- इसके आकार की तरह इसका स्वाद भी काफी अलग होता है और साथ ही में इसकी सुगंध भी। लाइबेरिका बीन्स को फिलीपींस में उगाए जाते हैं और 1980 के दशक में काफी लोकप्रिय थे। हालांकि आजकल अरेबिका बींस सभी दुकानों में अधिक चल रहे हैं और लोग भी उन्हें पसंद कर रहे हैं लेकिन लाइबेरिका बीन्स ने भी उसके पीछे की सीट तो ले ही ली है।

लाइबेरिका बीन्स का स्मार्ट और सुगंध थोड़ा सा फलों जैसा होता है :- इसका स्वाद अन्य बीन्स से थोड़ा सा अलग होता है। कुछ लोगों को वह थोड़ा सा स्मोकी और वुडी लगता है। ये बींस की खेती काफी कम की जाती है और इसीलिए यह बाजार में भी काफी कम दिखते हैं।

एक्सेलसा ।

एक्सेलसा कॉफी बीन्स की खेती भी बहुत कम की जाती है,सभी कॉफी बीन्स के केवल 7% ही इसकी खेती की जाती है :- अभी अभी इसे लाइबेरिका परिवार के सदस्य के रूप में फिर से वर्गीकृत किया गया है। हालांकि दोनों ही कॉफी बीन्स का स्वाद एक-दूसरे से काफी अलग है। ये ऊंचे पेड़ों पर उगते हैं और दक्षिण पूर्व एशिया में अधिकतर उगाए जाते हैं। अधिक स्वाद लाने के लिए इसका इस्तेमाल कॉफी मिश्रण के साथ किया जाता है।

भारत में कॉफी बींस ।

ऊपर दिए गए कॉफी बीन्स पूरी दुनिया में प्रसिद्ध कॉफी बीन्स थे:- एक कॉफी प्रेमी होने के नाते और भारत में होने के नाते आपको ऐसे कॉफी बीन्स के बारे में भी पता होना चाहिए जो भारत में अधिकतर बिकते हैं और लोकप्रिय है। है ना? यहां पर हमने कुछ ऐसे ही कॉफी बींस के बारे में आपको जानकारी दी है। यदि आप भारत में ही खेती की गई कॉफी बींस के बारे में जानना चाहते हैं तो एसे कई सारे कॉफी बींस है।

भारत में पिछले 150 सालों से कॉफी बीन्स की खेती हो रही है और हम दूसरे देशों में भी यह कॉफी बीन्स बेच रहे हैं :-ये स्वाद में हल्की होती हैं और बहुत अम्लीय भी नहीं होती हैं। भारत में कॉफी के बगीचे में कॉफी के साथ साथ इलायची, मिर्च जैसे भी फसलें उगाई जाती है। इसकी वजह से भी भारतीयों कॉफी का स्वाद बहुत ही अच्छा होता है। अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्र अरबी कॉफी के लिए अनुकूल हैं, जबकि आर्द्र परिस्थितियों वाले क्षेत्र रोबस्टा के लिए अनुकूल हैं।

दक्षिण भारत में केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु कॉफी के कई बगीचे आए हुए हैं :- अरेबिका और रोबस्टा कॉफी बीन्स यहां उगाई जाने वाले मुख्य कॉफी बीन्स है। पूर्वी घाट और उत्तर पूर्वी राज्यों में भी अब कॉफी की खेती होती है। यहां के आंध्र प्रदेश और उड़ीसा में ज्यादातर अरबिका कॉफी उगाई जाती है। मॉनसून मालाबार एए और रोबस्टा कापी रोयाले भारत के कुछ खास कॉफ़ी हैं।

सबसे अच्छे 10 कॉफी ब्रांड जिन्हें आप अपने रिश्तेदार या दोस्तों को उपहार में भी दे सकते हैं।

अर्बन प्लेटर भूने हुए अरेबिका कॉफी बीन्स ।

Source www.amazon.in

अर्बन प्लेटर रोस्टेड अरेबिका कॉफी बीन्स काफी लोकप्रिय भारतीय ब्रांड है :- कॉफी प्रेमी को खुश करने के लिए यह कॉफी बींस सबसे सही विकल्प रहेगी। इसका स्वाद भी आपको इतना कड़वा नहीं लगेग। इसका स्वाद भी उतना स्ट्रांग नहीं है। ये अरेबिक बीन्स कूर्ग में उगाए जाते हैं और पूर्णता के लिए भुना जाता है। इसकी पैकेजिंग की भी काफी अच्छी सुगंध आती है और यह बीन्स काफी लंबे समय तक अच्छे रहते हैं।

हम आपको सुझाव देंगे कि जितने बीन्स की आवश्यकता है केवल उतने ही बीन्स को पीसे :- हालांकि यदि आप इसे अच्छी तरह हो स्टोर कर सकते हैं तो पीसने के बाद भी इसका स्वाद बरकरार रहता है।इन कॉफी बीन्स का दाम भी उतना अधिक नहीं है। आप इसे अमेजॉन पर से केवल 275 रुपए की कीमत में खरीद सकते हैं।

दर्शन कॉफी भुने हुए रोबुस्टा कॉफी बीन्स ।

Source www.amazon.in

दर्शन कॉफी पूरी तरह से भुना हुआ रोबस्टा कॉफी बीन्स का ही एक किस्म है :- इसकी गुणवत्ता काफी अच्छी होती है। ये केरल के त्रावणकोर में नीलगिरी के बागान में उगाई जाती है। ये सुंदर और मखमली कॉफी में अरेबिका की तुलना में कैफीन की मात्रा अधिक होती है। कॉफी प्रेमी लोग जिन्हें थोड़ी सी तीव्र और कड़वे स्वाद वाली कॉफी पसंद है उन्हें यह कॉफी अवश्य ही आजमानी चाहिए।

यदि आप कड़वाहट को कम करना चाहते हैं, तो :- आप इसे अरेबिका कॉफी बीन्स के साथ भी मिला सकते हैं। आप अमेजॉन पर से इसे 147 रुपए की कीमत में खरीद सकते हैं।

ब्लू टोकाई कॉफी ।

ब्लू टोकाई कॉफी ने भारतीय कॉफी की दुनिया में काफी अच्छी पहचान बना रखी है :- यह काफी अच्छी गुणवत्ता वाले और स्वाद में भी काफी अच्छे हैं। ये कॉफी आपको कैफे के साथ साथ ऑनलाइन स्टोर पर भी मिल जाएंगी। ये कॉफी बीन्स की खेती अधिकतर केरल में अट्टापदी पहाड़ियों में की जाती है। ये हल्के अम्लता वाली और मीठे स्वाद वाली कॉफी है।

इसे बिना दूध के ही सेवन करना सबसे अच्छा माना जाता है :- इसके दाम अन्य कॉफी बीन्स की तुलना में थोड़े से अधिक है। लेकिन इसका स्वाद भी उतना ही अच्छा होता है। आप इसे 450 रुपए की कीमत में खरीद सकते हैं।

फ्लाइंग स्क्वीरल 6-पैक टीजर का सेट ।

फ्लाइंग स्क्वीरल को भी अच्छे कोफी ब्रैंड में से एक माना जाता है :- इस कॉफी बीन्स की विशिष्ट रूप से खेती की जाती है और कॉफी में सभी अच्छाई को बनाए रखने के लिए वैज्ञानिक रूप से संसाधित किया जाता है। फ्लाइंग स्क्वीरल के 6-पैक टीजर का यह सेट कॉफी प्रेमी लोगों के लिए काफी अच्छा विकल्प रहेगा।

लेकिन यह जरूरी नहीं है कि आप अपने रिश्तेदार या दोस्तों के लिए ही ये कॉफी बींस खरीदें :- आप अपने आपको भी यह स्वादिष्ट कॉफी बींस उपहार में दे सकते हैं। कूर्ग में इसकी सर्वश्रेष्ठ खेती की जाती है।

भारतीय बीन फ्राउनर की कॉफी ।

यह कॉफी निश्चित रूप से किसी भी फ्राउनर के दिन को बनाने के लिए काफी है :- यह थोड़ी सी अम्ल होती हैं और इसका स्वाद थोड़ा सा फलों जैसा आता है। यह कॉफी कॉफी प्रेमी के कोई भी दिन को तरोताजा और सुगंधित बना सकती है।

आप अपने स्वाद के अनुसार भुने हुए मींस पसंद कर सकते हैं :- इसका दाम दूसरी कॉफी की तुलना में थोड़ा सा अधिक भी है। 250 ग्राम कॉफी की कीमत 400 रुपए है।

यदि आप दुनिया भर के कॉफी बीन्स पसंद करते हैं, तो हमारे पास आपके लिए कुछ सुझाव हैं।

मालिबू दक्षिण अमेरिका से धूप में सुखाये हुए बीन्स ।

मालीबू कार्बनिक अरेबिका कॉफी बीन्स का एक जटिल मिश्रण है :- ये दक्षिण अमेरिका में ग्वाटेमाला और कोलंबिया में मिलती है जहां उसे धूप में सुखाया जाता है। इसे थोड़ा सा भूना जाता है और इसका स्वाद चॉकलेट एवं फलों जैसा होता है। आप लाइफस्टोओशोर्टफ़ॉर्बडॉफ़्की में जाकर दूसरे कॉफी बीन्स के बारे में भी जान सकते हैं।

इमरा अफ्रीकी कॉफी बीन्स ।

इमारा की इस अरेबिका कॉफी बीन्स की खेती दक्षिण अफ्रीका में की जाती है और यह अब तक के सबसे बेहतरीन स्वाद वाले कॉफी मिश्रणों में से एक है :- इसे थोड़ा सा भूना जाता है और इसका स्वाद थोड़ा सा चॉकलेट जैसा होता है। आप इंडियामार्ट पर से 650 रुपए की कीमत में इसका एक पैकेट खरीद सकते हैं।

कोलम्बिया सुप्रीमो एकल उत्पत्ति कॉफी ।

कोलंबिया अपनी उच्च गुणवत्ता वाली अरेबिका कॉफी बीन्स के लिए अच्छी तरह से जाना जाता है :- वास्तव में कोलंबिया दूसरा देश है जहां इन कॉफी बीन्स का सबसे अधिक उत्पादन होता है। बीन्स और ब्रूज़ की वेबसाइट पर से आप इसे 400 रुपए की कीमत में खरीद सकते हैं। इसका स्वाद थोड़ा सा तीव्र और थोड़ा सा मीठा होता है।

हरे कॉफी बीन्स ।

यह कॉफी बींस स्वास्थदी के लिए भी काफी अच्छे होते हैं और इसमें कैफीन की मात्रा भी काफी कम होती है :- यह कॉफी बींस को भूना नहीं जाता। ग्रीन कॉफी बीन्स में एंटीऑक्सिडेंट होते है और यह आपके पूरे शरीर को स्वस्थ रखता है अगर आप अपने रोजांदा जीवन में से कुछ अलग स्वाद लेना चाहते हैं तो फिर आपको यह कॉफी अवश्य ही अजमानी चाहिए। आप इसे 299 रुपए की कीमत में खरीद सकते हैं। कहा जाता है कि यह आपको आपका वजन कम करने में भी काफी मदद करती है।

कॉफी बींस खरीदते समय कुछ बातें ध्यान में रखें ।

Source enjoyjava.com

कॉफी बींस खरीदते समय इन बातों को ध्यान में रखना चाहिए :

कॉफ बींस की विविधता - अरेबिका या रॉबुस्टा?
आमतौर पर बाजार में मुख्य रूप से यह दो प्रकार के कॉफी बींस ही मिलते हैं। इसलिए यह जान ले की आपको कौन से कॉफी बींस का स्वाद अधिक अच्छा लगता है और उसके अनुसार ही खरीदारी करें।

भौगोलिक रूप से एकल उत्पत्ति या एक से अधिक उत्पत्ति ।

कॉफी बीन्स जो केवल एक खेत / संपत्ति या एक ही क्षेत्र से मिलती हैं, उन्हें एकल उत्पत्ति कहा जाता है :- इसकी उपलब्धता मौसम के अधीन है। यदि आपको शुद्ध कॉफी बींस का स्वाद लेना है तो हम आपको एकल उत्पत्ति वाले कॉफी बींस के लिए जाने को कहेंगे। जब मिश्रित भौगोलिक स्थानों से कॉफी बीन्स को एक साथ मिलाया जाता है, तो इसे कॉफी मिश्रण के रूप में जाना जाता है। इसका स्वाद और अम्लता संतुलित होती है।

प्रसंस्करण विधि- धोए हुए या दुख में सुख आए हुए?

कॉफी बीन्स को बीज को त्वचा और उस फल के गूदे से निकालने के लिए संसाधित किया जाता है :- इसके लिए प्राकृतिक रूप से इससे धूप में सुखाया जाता है। बाद में इसमें से बीज निकाले जाते हैं। इसकी वजह से यह कॉफी बींस का स्वाद अधिक अच्छा लगता है। धोने की प्रक्रिया विधि में, बीज को सूखने से पहले फल से हटा दिया जाता है। इसलिए यह कॉफी बींस का स्वाद उतना अच्छा नहीं होता। इसमें फलों जैसा स्वाद भी बहुत ही कम होता है।

पकाए जाने की प्रक्रिया- बिल्कुल नहीं, मध्यम, उच्च ?

जब कॉफी बींस को गर्मी में पकाया जाता है तब उनके अंदर छिपी सुगंध और स्वाद बाहर आता है :- इसलिए आपके कॉफी का स्वाद और भी अधिक बढ़ जाता है। हालांकि आप इन्हें कहां तक पकाना चाहते हैं वह भी इसका स्वाद और सुगंध तय करता है। जैसे-जैसे आप इन्हें अधिक भूनेंगे वैसे ही इनकी अमल्ता और ज्यादा बढ़ेगी।

एक अच्छी सी कॉफी उसे कहते हैं जिसमें स्वाद और अम्लता का अच्छा सा संतुलन हो। यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आपको कॉफी का स्वाद कैसा पसंद है मीठा या थोड़ा सा कड़वा? अपने स्वाद के अनुसार अपने लिए सही कोफ़ी बीन्स चुने।

From our editorial team

आपकी कॉफी का स्वाद आपके अनुसार होना चाहिए ।

कॉफी का एक अच्छा कप वह होता है,जिसमे स्वाद के साथ संतुलित मात्रा में अम्लता हो।क्यूंकि ,आपकी कॉफी का स्वाद आपकी प्राथमिकता है। लेकिन यह कॉफी पीने वाले व्यक्ति पर निर्भर करता है,की वह अपनी कॉफी को कितना मीठा या कड़वा चाहते हैं। तो,अपने अच्छे स्वाद के लिए अपने अनुसार कॉफी बीन्स प्राप्त करें।